Follow The Path For Success Network Marketing In Hindi

Follow The Path For Success Network Marketing In Hindi

Follow The Path For Success Network Marketing

Follow The Path For Success Quotes In Network Marketing
Follow The Path For Success  In Network Marketing

# 1 . (Path For Success) Patience ( धैर्य )

Path For Success Network Marketing  हमें समझना पडेगा कि हर कार्य को करने के लिए दुनिया के कुछ सिद्धान्त काम करते हैं । जैसे पैरटो के नियमानुसार 80/20 का सिद्धांत है । एक लीटर दूध है तो उसमें से 200 ग्राम खोया ही निकलेगा , रेल में अगर 25 डिब्बे हैं तो लगभग 5 डिब्बे ही AC होंगे । दुनिया में 100 % में से 80 % लोग आम हैं और 20 % लोग ही अमीर जिंदगी जीते हैं । चाहे हमारी बिजनेस का प्लान कितना भी अच्छा हो- लेकिन हमारे Network Marketing बिजनेस में नए लोगों में भी 100 में से 20 लोग ही आने का निर्णय ले पायेंगे । हमको दिल छोटा नहीं करना है । एक दूसरा अंतर्राष्ट्रीय सर्वे में यह बताया है कि 10 : 7 : 4 : 1 का Ratio काम करता है । 10 लोगों से आप संपर्क करेंगे तो केवल 7 लोग बात करेंगे और उनमें से 4 लोग आपकी सुनेंगे और उनमें से केवल 01 व्यक्ति आपके साथ जुड़ सकता है या आपका प्रॉडक्ट ले सकता है ।

Path For Success SW 5 Rules :

1. Some will come

2. Some will not come . ( कुछ लोग नहीं आयेंगे )

3. So what ( तो क्या फर्क पडता है )

4. Some one is waiting ( कुछ लोग इंतजार में है )

5. So start working . ( इसलिए काम शुरू करो ) ( कुछ आयेंगे )

  • खेती में भी किसान के 100 % बीज नहीं उगते हैं ।
  • क्रिकेट खिलाडी को भी हर बॉल पर विकेट नहीं मिलती है । करीब 30 बॉल पर एक विकेट की एवरेज आती है ।
  • बडे युद्ध जीतने के लिए छोटी – मोटी लडाईयां हारनी पडती हैं । अब्राहिम लिंकन ने कहा था , ” बात यह नहीं है कि आप असफल हो गए , बल्कि बात यह है कि कहीं आप असफलता से संतुष्ट तो नहीं हो गए । ” थॉमस एडीसन ने जब बल्ब का आविष्कार किया था तो उसके पहले वे 10 हजार बार असफल हुए थे । एडीसन ने सोच लिया था कि हर असफलता उन्हें सफलता के ज्यादा करीब ला रही है ।

आप तो बस लोगों को System के मुताबिक प्लान दिखाते जाएं और रिजल्ट की चिंता ना करें तथा भगवान श्रीकृष्ण के उपदेश को हमेशा याद रखें कर्म करो फल के बारे में चिंता मत करो । ‘ आपको तो बस लोगों को जानकारी देते रहना है , वे जुडेंगे या नहीं , उसकी चिंता ना करें – आप तो एक ही काम करें- आए तो Best नहीं तो Next- | बस आप डटे रहें – कब आप डायमण्ड बन जायेंगे पता भी नहीं चलेगा । यहाँ हम एक बात और शामिल करना चाहते हैं कि अगर Result कम दिखाई दे तो आप अपने प्लान दिखाने की संख्या बढा दें।क्योंकि कंचे ( कांच की गोली ) के खेल में आपने देखा ही है कि यदि अगर आपके एक या दो ही कंचे हैं तो कोई गारंटी नहीं होती कि बिल या गड्डे में चले ही जाएं ।

लेकिन 40 या 50 या उससे ज्यादा कंचे आपकी मुट्ठी में हैं और बिल में दो डालने हैं तो आप अगर आंख बंद करके भी डाल देंगे तो तो 2 से 4 कंचे तो उस बिल में डल ही जायेंगे और भगवान की दया से हमारे बिजनेस में लोगों की जरूरत रहती है और हमारे भारत देश में लोगों की कोई कमी नहीं है । बडे – बडे बिजनेस करने वाले बताते हैं कि किसी भी Network Marketing बिजनेस को सही जमाने के लिए या सफल करने के लिए कम से कम 1000 दिन तक उसे करते रहने की निहायत जरूरत है । ये कोई दिहाडी मजदूरी नहीं कि शाम को 5 बजे , और खड़े हो गए मजदूरी के लिए । आखिर में आप यहां पर ( Independent Business owner ) है । आप एक स्वतंत्र रूप से कार्य करने वाले मालिक की हैसियत से काम करते हैं । धैर्य रखें और लगातार करते रहें ।

# 2 . (Path For Success) Attitude ( नजरिया )

इस Path For Success बिजनेस में हमें हर इंसान के प्रति हर परिस्थिति में सकारात्मक नजरिया रखना चाहिए । एक आदमी बोलता है – गिलास आधा खाली है दूसरा बोलता है आधा भरा है । एक बार दो व्यक्ति तैयार होकर साधारण कपड़े पहन कर घर से निकले जैसे ही बाहर आए , दोनों पर एक चिड़िया ने विष्टा कर दी । एक ने तो भगवान को गाली देना शुरु कर दिया और बोला – ऊपर वाले का दिमाग खराब है उसको चिड़िया बनाने की क्या जरूरत थी ।

सारे उल्टे काम करता है । लेकिन उसी समय दूसरे आदमी ने बोला- हे ईश्वर आप धन्य हैं ! आपने चिड़िया को उड़ना सिखाया । अगर भैंस को उडना सिखवा देते तो क्या होता ? अगर वह उड़ती और गोबर सिर पर कर देती तो क्या होता ? हनुमान जी का एक उदाहरण है , जब लंका पर चढ़ाई करने के लिए पुल का निर्माण कार्य चल रहा था ।

उस समय के कारीगर नल व नील हर एक पत्थर पर राम का नाम लिखकर तैरा रहे थे । भगवान राम के मन में एक विचार आया कि यह लोग मेरा नाम लिख कर पानी में पत्थर तेरा रहे हैं तो क्या मैं जब पानी में पत्थर डालूँगा तो क्या वह भी तैरेगा ? उन्हें इतना संकोच हुआ कि अकेले में सुबह – सुबह पत्थर डालकर देखने का निर्णय लिया । भगवान श्री राम सुबह 4:00 बजे उठकर एकांत देखकर पानी में पत्थर डालने लगे और चारों तरफ देखा कि कहीं कोई है तो नहीं वरना कहीं ऐसा ना हो कि मैं पानी में पत्थर डालूँ और वह डूब जाए , तो लोग क्या सोचेंगे कि यह कैसे भगवान का अवतार है । और भगवान राम ने एकांत पाकर एक पत्थर पानी में डाला वह डूब गया ।

दूसरा डाला वह भी डूब गया । भगवान राम को बड़ा आश्चर्य हुआ कि यह कैसी माया है , मेरे डाले हुए पत्थर तो डूब रहे हैं और घबराकर पीछे देखने लगे , उन्हें झाड़ियों में से हनुमान जी आते दिखाई दिए उन्होंने पूछा , हनुमान क्या आपने कुछ देखा ? हनुमान जी ने कहा प्रभु मैंने सब कुछ देखा है और मैं जा रहा हूं सब वानर सेना को बताने । भगवान श्रीराम ने कहा- पहले मुझे तो बताओ क्या देखा है ? हनुमान जी ने कहा- प्रभु मैंने यही देखा कि आपने एक पत्थर पानी में डाला डूब गया , दूसरा डाला डूब गया । और पत्थर डूबेंगे क्यों नहीं , वह तो डूबना ही था , क्योंकि जिस चीज को प्रभु राम छोड़ देंगे ।

वह तैरेगी कैसे ? वह तो डूबेगी ही , वह तैर तो सकती ही नहीं , इसलिए अगर तैरना है तो अपने प्रभु को पकड़कर रखना , छोड़ना नहीं । बाटा कंपनी के मैनेजर को साउथ अफ्रीका में अपनी सेल की संभावनाओं को देखने के लिए भेजा । उसने वहाँ पहुँचकर देखा कि सब लोग नंगे पैर घूम रहे हैं । उस मैनेजर ने अपने बाटा कंपनी को रिपोर्ट भेजी कि यहाँ जूतों की बिक्री का कोई अवसर नहीं है क्योंकि सब नंगे पैर घूम रहे हैं और उसने नकारात्मक रिपोर्ट भेज दी ।

कुछ महीने बाद दोबारा कंपनी ने दूसरे मैनेजर को साउथ अफ्रीका में सर्वे के लिए भेजा । वह दूसरा मैनेजर वहाँ पहुँचा , सभी को नंगे पैर देखकर ( उत्साहित ) होकर बाटा कंपनी में टेलीफोन किया कि बहुत बढ़िया , बहुत ही बढ़िया , यहाँ पर तो बहुत शोरूम खुल सकते हैं । बस इनको समझाना है कि जूते पहनने का फायदा क्या होता है ? बहुत अच्छी बिक्री होगी , क्योंकि यहाँ सब लोग नंगे पैर घूम रहे हैं ।

# 3 . (Path For Success Network Marketing ) Teachability ( सीरवने की जिज्ञासा ) 

देखिए , खाली बोरी कभी भी खडी नहीं होती है , इसलिए लगातार सिस्टम , अपलाइन , मीटिंग इत्यादि के माध्यम से हमें सीखते रहने की जरूरत है । अन्यथा जैसे ही आप इस खूबसूरत , अनोखे और परिवार का इतिहास लिखने वाले बिजनेस का करने के लिए आगे बढ़ेंगे , आप कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में आ सकते हैं , जो आपका मनोबल गिराने की कोशिश करें । वे लोग इस संबंध में नकारात्मक बातें भी कर सकते हैं । वहीं कुछ लोग ऐसे भी मिलेंगे , जो आपके साथ जुडने से पहले पूरी गंभीरता से इस Network Marketing  बिजनेस के संबंध में मिली जानकारी की सच्चाई को परखना चाहेंगे । इसलिए यह जरूरी है कि सबसे पहले आप इसकी जानकारी हासिल करके खुद को तैयार कर लीजिए । जब आप किसी प्रॉस्पेक्ट या अपने आपको इस बिजनेस का बहुत बडा जानकार समझने की गलतफहमी रखने वाले किसी व्यक्ति से बात करेंगे , तब इस जानकारी के कारण मिले आत्मविश्वास का लाभ आपको निश्चित ही मिलेगा । आत्मविश्वास इस बिजनेस में सफलता की कुंजी है , लेकिन यह आत्मविश्वास तभी पैदा होगा , जब आपने पहले से ही इस बिजनेस को अच्छे से समझ लिया होगा ।

# 4 . (Path For Success Network Marketing ) Honesty ( ईमानदारी )

इस Network Marketing  Business को खुद का बिजनेस समझकर पूरी ईमानदारी से करने की जरूरत है । कुछ लोग तब तक ही ईमानदार रहते हैं जब तक बेईमानी करने का अवसर ना मिले । लेकिन इस व्यवसाय में  Path For Success  हमें लगातार पूरी निष्ठा और ईमानदारी से काम करते रहने की जरूरत है । आपने सुनी होगी एक लकड़हारे की कहानी कि एक बार एक लकड़हारा नदी के किनारे पेड़ काट रहा था , अचानक हाथ से छूटकर उसकी कुल्हाड़ी नदी में गिर गई । वह बहुत दुःखी हुआ और रोने लगा ।

तभी जल देवता प्रकट हुए और पूछा क्या कारण है ? लकड़हारे ने अपने शोक का कारण बताया , जलदेवता ने डुबकी लगाई और चांदी की कुल्हाडी लेकर आए और पूछा , यह आपकी कुल्हाडी है ? लकडहारे ने ना कहा , जलदेवता ने दुबारा डुबकी लगाई और सोने की कुल्हाडी लेकर आए और फिर पूछा । लकड़हारे ने इस बार भी ना ही कहा । जलदेवता ने तीसरी बार डुबकी लगाई और लोहे की कुल्हाड़ी लेकर आए और लकड़हारे से पूछा ? लकड़हारा खुश हो गया और कहा , हां यही मेरी कुल्हाड़ी है ।

लकड़हारे की ईमानदारी पर जलदेवता ने तीनों कुल्हाड़ी लकड़हारे को दे दी । लकड़हारे ने धन्यवाद दिया और खुशी – खुशी अपने घर चला गया।ये कहानी है सतयुग की । लेकिन अब कलयुग में एक दिन वही लकड़हारा नदी के पास लकडी काट रहा था । जलदेवता ने सोचा ये वही सतयुग के समय वाला लकड़हारा है जो इस युग में आ गया है । देखता हूँ , कलयुग का इस पर कितना असर पड़ा है । जल देवता ने अपने प्रभाव से उसकी बीवी को जल में डूबते हुए दिखा दिया ।

लकड़हारा ये सब देखकर रोने लगा । जलदेवता प्रकट हुए और शोक का कारण पूछा । लकड़हारे ने बताया अभी – अभी नदी में उसकी बीबी डूब गई है । जलदेवता ने डुबकी लगाई और प्रीति जिन्टा को लेकर आए और लकड़हारे से पूछा कि ये है तुम्हारी बीवी ? लकड़हारे ने तुरंत कहा , हाँ यही है । जलदेवता बड़े क्रोधित हो गए और उन्होंने लकड़हारे से पूछा क्या कलयुग का प्रभाव तुम पर भी पड गया , तुम्हारी ईमानदारी कहाँ गई ? लकड़हारे ने घबराते हुए जलदेवता से कहा कि दरअसल , बात यह नहीं है , बात यह है कि मुझे मालूम है कि आपने पहले प्रीति जिन्टा को निकाला , मैं मना करता आप कैटरीना कैफ को निकालते , मैं फिर मना करता तो आप मेरी बीबी को निकालते और मैं जैसे ही हाँ बोलता , आप तीनों मुझे दे देते और प्रभु मैं तीन – तीन को नहीं झेल सकता हूं।सार आप समझते हैं ।

यदि 100 % सफलता हमें मिलनी है तो ये तीन चीजें हमें

100 % सफलता दिलाती हैं ।

90 % Excitement 

08 % Technique ( तकनीक )

2 % Fine tuning 

हमारी 90 % सफलता हमारे Excitement पर निर्भर करती है । अगर हम Network Marketing बिजनेस को लेकर उत्साहित हैं तो हम सही तरीके से सीख सकेंगे ओर लोगों को दमदारी से अपनी बात कह सकेंगे और ये बात बिलकुल पक्की है लोग बिजनेस को कम हमारे उत्साह को ज्यादा देखते हैं ।

उत्साह की वजह से हमारे अंदर चुम्बकीय गुण आ जाते हैं और लोग हमारी तरफ आकर्षित होते हैं । सांसारिक लोग बोलते हैं आप राम है , आप श्याम है । ऐसे ही साधु महात्मा बोलते हैं आप एक आत्मा है । लेकिन Direct Selling Network Marketing  में कहा जाता है आप एक चुम्बक है और प्रॉस्पेक्ट एक चुम्बक है । लोग पीछे दौडने की बजाए आपसे आकर्षित होने चाहिए ।

अब 8 % सफलता हमें कुछ तकनीक की वजह से मिलने वाली है , आगे लिखी हुई तकनीकों को हम लगातार प्रयोग में लाकर अपने कौशल ( skill ) बढा सकते हैं और सफलता पा सकते हैं ।

इसके अलावा 2 % सफलता लगातार अपलाइन और डाउनलाइन से अच्छे संपर्क बनाए रखने से मिलती है । ये बहुत जरूरी है जैसे हमने गाडी खरीदी 10 लाख की , पैट्रोल डलवाया 2000 रु.का लेकिन अगर 05 रूपए की हवा टायर में नहीं डाली तो क्या गाडी चलेगी ? Path For Success मुझे भरोसा है आप समझ गए हकन अब हम आते हैं , इस व्यवसाय के 8 जादुई स्टेप्स पर जो लोगों को तथा हमें ऊँचाईयों पर पहुँचाने की ताकत रखते हैं । ये स्टेप्स जादु की तरह कार्य करते हैं , इन स्टेप्स को हम सफलता चक्र से समझेंगे जो इस प्रकार है

Follow The Path For Success Network Marketing
Follow The Path For Success Network Marketing

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *