Super Idea Mlm Network Marketing Business start In Work

Super idea Mlm  Network Marketing Business

 

Super idea Mlm  Network Marketing Business

 

Super idea Mlm Network Marketing Business

 यह Mlm Network Marketing Business  कैसे करें हमने निर्णय तो ले लिया है कि यह Network Marketing Business हमें करना है लेकिन चूंकि हम लोग नेटवर्क मार्केटिंग , मल्टी लेवल मार्केटिंग बिजनेस की हमें ज्यादा जानकारी नहीं है इसलिए हमें यह बिजनेस सीख कर ही करना होगा हम फिर जोर देकर कहना चाहेंगे कि सीख कर करना पड़ेगा क्योंकि हर बिजनेस का विभाग का हर व्यवसाय का अपना अलग एक सिस्टम होता है वैसे भी चाहे फौज हो डाक्टरी हो , इंजीनियरिंग हो , बिजनेस हो , पायलट हो , वकील हो , मैनेजर हो या कोई भी व्यवसाय हो सीखना तो पड़ता ही है । हम भी इस बिजनेस को सीख कर बहुत अच्छी तरह से कर सकते हैं ।

Super idea mlm Network marketing Business अगर हम बगैर सीखे इस बिजनेस को करने की कोशिश करेंगे तो कोई भी हमें फूंक मार सकता है आप विचार कर रहे होंगे कि फूंक मारने से क्या होगा यह क्या माजरा है इस फूक के पीछे बहुत गुदगुदाने वाली एक कहानी है । एक बार एक गर्भवती भैंस बहुत बीमार थी , पशुओं के डॉक्टर साहब को बुलाया गया ।

डा . साहब ने भैंस का निरीक्षण किया और नतीजे पर पहुंचे कि इस भैंस के पेट में दवाई पहुंचाना जरूरी है और भैंस दवाई खाने को तैयार नही थी । ( इंजेक्शन से काम होना नहीं था ) तो डा . सहाब ने एक तरकीब निकाली , उन्होंने एक मुलायम रबर का पाइप लिया और भैंस के मुख द्वार में से पेट तक पहुंचा दिया ।

उस पाइप में कुछ गोली व कैप्सूल पीसकर डाल दिया । अब एक ही कार्य बाकी था कि डा . साहब फूंक मारते और दवाई भैंस के पेट में चली जाती , लेकिन जैसे ही डा . साहब ने पाइप पर फूंक मारने के लिए मुंह लगाया , भैंस ने फूंक मार दी और सारी पिसी हुई दवाई डा . साहब के अंदर चली गई । बच्चा देना था भैंस को , अब डा . साहब का दिल बच्चा देने को करने लगा । और ऐसा ही कुछ हमारे कई साथियों के साथ होता है वे बगैर सीखे ही इलाज करने पहुंच जाते हैं और उल्टी फूंक मरवाकर आ जाते हैं ।

दवाई खिलाने की जगह उल्टे दवाई खाके आ जाते हैं । वे लोग जाते हैं दूसरों को समझाने के लिए और उल्टा खुद ही समझ कर आ जाते हैं , इसलिए किसी ने ठीक ही कहा है ” नीम हकीम खतरा एजां ‘ । लेकिन हम सोचते हैं कि हमें इस व्यवसाय को कैसे करना है , इसकी तो हमें जानकारी नहीं है तो यह कैसे होगा ? चिंता न करें । यह सीखना कोई मुश्किल नहीं है , हर कोई इस Mlm Network Marketing Business  को कैसे करना है सीख सकता है , क्यों देखा जाए तो सब काम इन्सान पहले सीखता ही है । उदाहरण के तौर पर धर्मेन्द्र एक्टिंग करने से पहले एक्टिंग करना जानते नहीं थे । सचिन खेलने से पहले खेलना जानते नहीं थे ।

कोई डॉक्टरी सीखने से पहले डॉक्टरी करना जानता नहीं है । ऐसे हमारे बहुत सारे दमदार लीडर्स आज बहुत तेजी से प्रगति कर रहे हैं । वे नेटवर्किंग या एमएलएम के बारे में कुछ नहीं जानते थे । उन्होंने इसमें काम करने का तथा सीखने का निर्णय लिया और वे आज अपने बनाए हुए सभी रिकॉर्ड को एक – एक करके तोड़ रहे हैं ।

उन्होंने कहा – भाई कंपनी के काम इतने हैं कि हम ठीक से सो नहीं पाते , थक जाते हैं तो क्या हुआ ? सफल तो हैं , सुखी तो हैं । असल में ऐसे लोग सुखी नहीं होते , सफल नहीं होते और अगर आप भी इसे सफलता समझते हैं तो माफ कीजिएगा मगर आप गलत है – भौतिक सफलता के साथ – साथ नैतिक सफलता बहुत जरूरी है , वरना जीवन में सब कुछ होते हुए भी कुछ नहीं होगा ।

Super idea Mlm Network Marketing Business मित्रों , मैं आपको सफलता के कुछ ऐसे सफल और कारगर सिद्धान्त बताऊंगा जो आपको खुशहाल कामयाब और संतुष्ट बनायेंगे । इन सिद्धांतों पर चलकर आप स्वयं खुद के और दूसरों के जीवन की दशा और दिशा बदल देंगे ।

यकीन मानें इस mlm network marketing Business से जुड़े सभी लोग डायमण्ड के पद तक पहुंचना चाहते हैं और यह जिद होनी भी चाहिए । मैं आपको विश्वास दिलाता हूं आप अवश्य डायमण्ड ( अचीवर ) बनेंगे यह बुक आपकी कामयाबी के लिए ही तो बनाई गई है ।

इसे बार – बार पढ़ें , समझें और वैसा बनने की कोशिश करें । याद रखें कोई भी व्यक्ति कुछ भी कर सकता है , कुछ भी बस खुद पर विश्वास करें ।

” यूं भी अपना हाल रखा करो , ठीक से देखभाल रखा करो । जिंदगी रोज मरती रहती है , थोडा इसका ख्याल रखा करो ।

” मेरा एक प्रिय सवाल है जो मैं अक्सर लोगों से पूछता हूं तो बडी हैरानी होती है कि उनके पास इस सीधे से सवाल का कोई जबाव नहीं होता ।

सवाल बहुत छोटा है , परंतु गंभीर है , सवाल है – क्या कभी आपने अपने बारे में सोचा है ? कोई वक्त , कोई पल जब आप सिर्फ अपनी सफलता , अपनी खुशी , अपने स्वास्थ्य , अपने धन – दौलत के बारे में सोच रहे थे । मैं जानता हूं नहीं सोचा ।

मुझे मालूम है हर व्यक्ति सोचता तो है लेकिन दूसरों के बारे में । वह सोचता है मां – बाप , भाई – बहन , पडौसी , समाज , देश और दुनियां की खुशहाली , सुख – समृद्धि के बारे में । जिंदगी की फिल्म जिसके हीरो आप स्वयं है , वह कैसा होगा ? कैसे दिखेगा ? क्या करेगा ? क्या शौक होंगे ? मुझे तो लगता है यदि आप इस हीरो की एक – दो बात पर फोकस कर लें तो आपका सब कुछ बदल जाएगा ? हमेशा के लिए इस हीरो को महान बनाइए ।

आप हमेशा दूसरों के बारे में सोचते हैं , खुद को जानने , समझने का समय किसके पास है । बडे ताज्जुब की बात है 2 से 5 % लोग ही ऐसे हैं जो स्वयं के बारे में सोचते हैं , बडी मजेदार बात है कि सफलता का प्रतिशत भी इतना ही है 2 से 5 % | आप सफल होना चाहते हैं तो खुद के बारे में सोचना शुरू कर दें , इसके लिए अपने मन को एकाग्र करे , अभी से तुरंत , यदि संसार का हर इंसान अपनी सफलता , अपनी खुशी के बारे में एकाग्र मन से सोचे तो हर कोई सफल हो जाएगा ।

Importance Mlm Network Marketing Business Idea

मन क्या है ? इसे कैसे एकाग्र करें ? आइए मैं आपको मन के बारे में बताऊं । यह दो अक्षरों से बना शब्द ‘ मन ‘ बडा ही चमत्कारी है । यह कुछ भी कर सकता है , समस्त धर्मों के साथ – साथ विज्ञान भी मानता है कि मन को साधकर हम संसार का कोई भी सुख प्राप्त कर सकते हैं वो चाहे आर्थिक हो , सामाजिक हो , शारीरिक हो मानसिक या भौतिक ।

यह मन की शक्ति ही तो थी जिसने किसी को देवता , किसी को संत , किसी को पैगंबर , किसी को तीर्थकर बना दिया , सारे आविष्कार सारी खोजें इसी मन की शक्ति की देन है !

मन के सही इस्तेमाल से कोई भी साधारण से असाधारण बन सकता है । महात्मा गांधी एक साधारण व्यक्ति थे , मगर अपने मन को साधकर वे विश्व के महानतम व्यक्तित्व हो गए , उनके पास कौन सा धन था ? सिपाही या अलादीन का चिराग था , कुछ भी ना होने के बावजूद इन्होंने आजादी की जंग में महानतम काम कर दिखाये , इसी मन की शक्ति की बदौलत ।

महाभारत के संजय के पास कौन सा यंत्र था , जो वो युद्ध का आंखों देखा हाल घृतराष्ट्र और गांधारी को सुना देते थे , वो मन की शक्ति ही तो थी । अमिताभ बच्चन को कौन नहीं जानता । उन्हें कभी उनकी लंबी टांगों और खराब आवाज के कारण अयोग्य घोषित कर दिया गया था , वे अपमानित होते थे , लेकिन मन की शक्ति से उन्होंने अपनी विफलता को सफलता में बदल दिया । ऐसे लाखों उदाहरण है , प्राचीन ग्रंथों में , आविष्कार की दुनियां में , बिजनेस जगत में या इस mlm network marketing Business में । 

मन की यह शक्ति आप सबके पास है , समान रूप से है , आप मन को साध कर दुनिया बदल सकते हैं , अपना मुकद्दर बदल सकते हैं । आपका मन बिजली की तरह है , जिसका आप उपयोग तो करते हैं , देख नहीं पाते । ठीक वैसे ही हम मन को नहीं देख पाते ।मन कम्प्यूटर की तरह है , कम्प्यूटर की क्षमता उसमे मौजूद सॉफ्टवेयर से होती है , यदि कम्प्यूटर में ज्योतिष का सॉफ्टवेयर है तो कम्प्यूटर ज्योतिष गणना कर पाएगा , यदि एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर इसमें है तो एकाउंटिंग कर पाएगा , इसमें जो सॉफ्टवेयर डाला जाएगा , यह उसी की गणना शुरू करता है ।

मन भी एक कम्प्यूटर की तरह है , विज्ञान कहता है कि आप इस कम्प्यूटर में कभी भी कोई भी दूसरा सॉफ्टवेयर डाल सकते हैं । खुश रहने का सॉफ्टवेयर , कामयाब होने का सॉफ्टवेयर । आप मन के बदौलत दुनिया में राज कर सकते हैं । अच्छा आप जानते हैं हमारे पास दो भन है एक बाहरी मन , दूसरा आतंरिक मन , एक चेतन मन , दूसरा अवचेतन मन , एक जागृत मन , दूसरा अर्धजागृत मन ।

यह चेतन और अवचेतन मन हिमशिला की तरह होते हैं जब हिमशिला पानी में तैरती है तो सिर्फ 10 प्रतिशत भाग ही दिखता है , 90 प्रतिशत भाग पानी के अंदर होता है , ठीक वैसे ही हमारा जागृत मन है , जिसका 10 % हिस्सा हम महसूस करते हैं और 90 % हिस्सा जो अर्धजागृत मन है उसे हम अनुभव नहीं कर पाते । हमारा जागृत मन जब हम जागते हैं तभी काम करता है , यह तर्क करता है , डरता है , सोचता है लेकिन इसकी शक्ति सीमित होती है ।

लेकिन अर्धजागृत मन 24 घंटे काम करता है , तर्क नहीं करता है , सोचता नहीं है , सृजन करता है । जागृत मन सपने देखता है , अर्धजागृत मन उसे पूरा करता है । हम अपने पूरे जीवन में सिर्फ 10 % जागृत मन से काम करते हैं और अर्धजागृत मन जिसके पास 90 % शक्ति है उसे हम जान ही नहीं पाते । Super idea Network Marketing Business

3 thoughts on “Super Idea Mlm Network Marketing Business start In Work

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *